आज रात 10 बजे से सोमवार सुबह 6 बजे तक यानी 32 घंटे का टोटल लॉकडाउन, सभी नियमों का पालन करें और खुद सुरक्षित रहते हुए दूसरों को भी सुरक्षित रखें

अब कोरोना की खबरें लोगों को डरा रही हैं। सरकार के पास बस एक ही उपाय है लॉकडाउन ! संक्रमितों के आंकड़ें को देखें तो मध्यप्रदेश में कोरोना के केस तेजी से बढ़ रहे हैं। पिछले 24 घंटे में 1,307 नए संक्रमित मिले हैं। सबसे ज्यादा चिंताजनक स्थिति भोपाल, इंदौर और जबलपुर की है। जिला प्रशासन ने तीनों शहरों में शनिवार रात 10 बजे से सोमवार सुबह 6 बजे तक यानी 32 घंटे का टोटल लॉकडाउन का फरमान जारी किया है। डर के साथ -साथ लॉकडाउन में दिक्कत न हो इसलिए लोगों ने खरीदारी भी शुरू कर दी है। शनिवार को इन तीनों शहरों में बाजार में लोग जरूरी सामान खरीदते नजर आए।

जानें सरकार की तैयारी ?

सूत्रों का कहना है कि कोरोना की रफ्तार को देखते हुए आशंका है कि अगले एक महीने में स्थिति सितंबर जैसी हो जाएगी। इसे ध्यान में रखते हुए सरकार आयुष्मान योजना से संबद्ध भोपाल के 145 अस्पतालों को 20% बेड कोरोना मरीजों के लिए रिजर्व करने के निर्देश दिए हैं।

जानें जिला प्रशासन की तैयारी ?

जिला प्रशासन कोरोना गाइडलाइन का सख्ती से पालन करानें के लिए राजधानी भोपाल में 70 स्‍थानों पर बैरिकेड्स लगाए हैं। मास्क नहीं लगाने पर 100 की जगह अब 500 रुपए का स्पॉट फाइन किया जाएगा । इंदौर में तो साफ निर्देश हैं कि मास्क मुंह पर लगा होना चाहिए। कान पर लटका मिला तब भी फाइन लगेगी। प्रशासन का कहना है कि बाजार में 60% लोग अभी भी बिना मास्क के घूम रहे हैं।

जानें पुलिस प्रशासन की तैयारी ?

लॉकडाउन के नियमों का पालन कराने की मुख्य जिम्मेदारी पुलिस को सौंपी गई है। पुलिस ने मुख्य सड़कों से लेकर गली-मोहल्लों तक में नियमों का पालन कराने के लिए प्लान बना लिया है। इसके लिए शहरभर में अलग-अलग टुकड़ियां बनाई जा रही हैं। अकेले इंदौर में ही पुलिस के 500 जवान तैनात किए गए हैं। लोगों से अपील है कि वे बेवजह घरों से बाहर न निकलें। नियमों का पालन करें और खुद सुरक्षित रहते हुए दूसरों को भी सुरक्षित रखें।

Spread the love