कोरोना का बढ़ता कहर – 24 घंटे में करीब 36,000 मरीज मिले

  • 20 मार्च से मध्यप्रदेश से महाराष्ट्र आने-जाने वाली यात्री बसों पर प्रतिबंध
  • पंजाब के 9 जिलों में नाइट कर्फ्यू के समय में बढ़ोतरी कर दी गई

महाराष्‍ट्र में बेकाबू कोरोना के आंकड़े डराने लगे हैं। राज्‍य में पिछले 24 घंटे में 25,833 नए मामले सामने आए हैं। यह आंकड़ा पिछले छह महीनों में सबसे ज्यादा है। पिछले साल 11 सितंबर को राज्य में 24,886 केस मिले थे।

इस बीच, 20 मार्च से मध्य प्रदेश में महाराष्ट्र से आने-जाने वाली यात्री बसों पर प्रतिबंध लगा दिया गया है। हालांकि, निजी वाहनों के आवागमन पर फिलहाल रोक नहीं है। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने गुरुवार देर शाम मंत्रालय में हुई कोरोना की समीक्षा बैठक में इसकी जानकारी दी।

शिवराज ने कहा कि मध्य प्रदेश में कोरोना की दूसरी लहर ज्यादा खतरनाक मानी जा रही है। महाराष्ट्र में कोरोना की विस्फोटक स्थिति है, जिसके कारण मध्य प्रदेश के हालात बिगड़े हैं। ऐसे में यात्री बसों के आवागमन पर रोक लगाई जा रही है। उन्होंने महाराष्ट्र की सीमा से लगे जिलों के प्रशासन को इस प्रतिबंध को सख्ती से लागू करने के निर्देश दिए हैं।

गुजरात में भी बढ़ते मामलों को देखते हुए अहमदाबाद म्युनिसिपल कॉर्पोरेशन ने 19 मार्च से शहर में नाइट कर्फ्यू लगाने की घोषणा की है। यह रात 9 बजे से सुबह 6 बजे तक लागू होगा। इसके अलावा शहर में शनिवार और रविवार को मॉल, सिनेमा हॉल आदि सार्वजनिक जगहों को बंद रखने का निर्देश दिया गया है।

वहीं, पंजाब के 9 जिलों में नाइट कर्फ्यू के समय में बढ़ोतरी कर दी गई है। पहले यहां रात 11 बजे से सुबह 5 बजे तक नाइट कर्फ्यू लगाने का फैसला किया गया था। अब इसे बढ़ाकर रात 9 बजे से सुबह 5 बजे तक कर दिया गया है। इन जिलों में लुधियाना, जालंधर, पटियाला, मोहाली, अमृतसर, गुरदासपुर, होशियारपुर, कपूरथला और रोपर शामिल हैं। यहां पिछले कई दिनों से रोजाना 100 से ज्यादा मामले सामने आ रहे हैं। उधर, दिल्ली में कोरोना को लेकर केजरीवाल सरकार अलर्ट पर आ गई है। मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने गुरुवार को एक बैठक बुलाई। इससे पहले दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सतेंद्र जैन ने कहा कि अभी फिक्र करने की बात नहीं है, दिल्ली की पॉजिटिविटी दर 1% से कम है और यहां पर अधिक से अधिक लोगों का टेस्ट किया जा रहा है।

सुखबीर बादल को कोरोना

शिरोमणि अकाली दल के अध्यक्ष सुखबीर बादल की कोरोना रिपोर्ट बुधवार को पॉजिटिव आई थी। गुरुवार को बादल निवास पर काम करने वाले तीन कर्मचारियों की रिपोर्ट भी पॉजिटिव आई, जिन्हें होम क्वारैंटाइन किया गया है। सुखबीर को मेदांता दिल्ली में भर्ती कराया गया है। अब पूर्व मुख्यमंत्री प्रकाश सिंह बादल भी दिल्ली शिफ्ट होने जा रहे हैं। हालांकि उनकी कोरोना रिपोर्ट निगेटिव आई है, लेकिन एहतियातन उन्हें उनके दिल्ली निवास पर ले जाया जा रहा है।

24 घंटे में करीब 36,000 मरीज मिले

देश में कोरोना के नए मरीजों का आंकड़ा लगातार बढ़ रहा है। बुधवार को 35,838 लोग पॉजिटिव पाए गए। 17,793 ठीक हुए और 171 की मौत हो गई। इसके साथ ही इलाज करा रहे मरीज, मतलब एक्टिव केस का आंकड़ा 2 लाख 49 हजार 197 हो गया। बीते 24 घंटे में एक्टिव केस में 17,862 की बढ़ोतरी दर्ज की गई है। नए संक्रमितों का आंकड़ा 5 दिसंबर के बाद, यानी 101 दिन में सबसे ज्यादा है। 5 दिसंबर को 36,010 केस आए थे। इसके बाद इनमें गिरावट आती गई।

देश में अब तक कुल 1 करोड़ 14 लाख 74 हजार 302 लोग इस महामारी की चपेट में आ चुके हैं। 1 करोड़ 10 लाख 61 हजार 170 ठीक हुए हैं, जबकि 1 लाख 59 हजार 250 लोगों की मौत भी हुई है। ये आंकड़े covid19india.org से लिए गए हैं।

Spread the love