कुपवाड़ा में सुरक्षा बलों का तलाश अभियान पुन: शुरू

  • मुठभेड़ में लश्कर-ए-तैयबा के एक शीर्ष कमांडर समेत दो आतंकवादी मारे गये थे
  • लश्कर-ए-तैयबा का शीर्ष कमांडर नसीरुद्दीन लोन शामिल है
  • सुरक्षा बलों ने दो एके राइफल और हथियार बरामद किये हैं।

श्रीनगर। जम्मू कश्मीर में सीमावर्ती कुपवाड़ा जिले के हंडवारा में गुरुवार की सुबह सुरक्षा बलों ने घेराबंदी और तलाश अभियान (कासो) पुन: शुरू कर दिया। इससे पहले यहां बुधवार की देर रात सुरक्षा बलों के साथ मुठभेड़ में लश्कर-ए-तैयबा के एक शीर्ष कमांडर समेत दो आतंकवादी मारे गये थे।

पुलिस महानिरीक्षक(कश्मीर) विजय कुमार ने बताया कि मुठभेड़ में मारे गये दो आतंकवादियों में एक लश्कर-ए-तैयबा का शीर्ष कमांडर नसीरुद्दीन लोन शामिल है , जो गत अप्रैल-मई में बारामूला के सोपोर और कुपवाड़ा के हंडवारा में आतंकवादी हमले में शामिल था। इन दोनों हमलों में सीआरपीएफ के जवान शहीद हो गये थे।

रक्षा मंत्रालय के प्रवक्ता कर्नल राजेश कालिया ने यूनीवार्ता को बताया कि राष्ट्रीय राइफल्स , केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल और जम्मू कश्मीर पुलिस के विशेष अभियान समूह ने क्रालगुंड हंडवारा के गनीपोरा के समीप बुधवार की रात संयुक्त तलाश अभियान छेड़ा था। सुरक्षा बल के जवान लक्षित इलाके की ओर बढ़ रहे थे , तभी वहां छुपे आतंकवादियों ने स्वाचालित हथियारों से अंधाधुंध गोलीबारी शुरू कर दी। सुरक्षा बलों ने भी जवाबी कार्रवाई में गोलियां चलाई।

दोनों पक्षों के बीच चली मुठभेड़ में दो आतंकवादी मारे गये। सुरक्षा बलों ने दो एके राइफल और हथियार बरामद किये हैं। आतंकवादियों के भागने के प्रयासों को विफल करने के लिए पूरे इलाके में अतिरिक्त सुरक्षा बलोंं को तैनात किया गया है। उन्होंने बताया कि सुबह होने के साथ ही इलाके में अभियान फिर शुरू कर दिया गया है। विस्तृत विवरण की प्रतीक्षा है।

Spread the love