राहुल गांधी का मोदी सरकार पर बड़ा हमला: बढ़ती बेरोजगारी और फेसबुक पर झूठी खबरें, सर्वनाश का सत्य देश से नहीं छुप सकता

राहुल गांधी का मोदी सरकार पर बड़ा हमला

राहुल ने अपने ट्वीट में लिखा, ‘पिछले 4 महीनों में क़रीब 2 करोड़ लोगों ने नौकरियां गंवाईं दो करोड़ परिवारों का भविष्य अंधकार में है। फेसबुक पर झूठी खबरें और नफ़रत फैलाने से बेरोज़गारी और अर्थव्यवस्था के सर्वनाश का सत्य देश से नहीं छुप सकता।’ प्रधानमंत्री में निजी साहस की कमी और मीडिया में इस मुद्दे पर चुप्पी के चलते भारत को बड़ी कीमत चुकानी पड़ेगी। ‘

नई दिल्ली: कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने नरेंद्र मोदी सरकार पर बड़ा हमला करते हुए कहा कि उसकी गलत नीतियों की वजह से पिछले चार माह में दो करोड़ से ज्यादा लोगों की नौकरी गई जिसके कारण इन परिवारों के समक्ष गंभीर संकट पैदा हो गया है।राहुल गांधी ने कहा “पिछले चार महीनों में क़रीब दो करोड़ लोगों ने नौकरियाँ गँवायी हैं। दो करोड़ परिवारों का भविष्य अंधकार में है। फेसबुक पर झूठी खबरें और नफ़रत फैलाने से बेरोज़गारी और अर्थव्यवस्था के सर्वनाश का सत्य देश से नहीं छुप सकता।”

राहुल ट्वीट के जरिये केंद्र सरकार की नीतियों की निशाना साध रहे हैं और सरकारी की नाकामियों को गिना रहे हैं। कांग्रेस नेता ने देश में तेजी से बढ़ रही बेरोजगारी को लेकर ट्वीट किया और लिखा कि फेसबुक पर झूठी खबरें और नफरत फैलाने से बेरोजगारी और अर्थव्‍यवस्‍था के सर्वनाश का सच देश से छुप नहीं सकता। राहुल ने अपने ट्वीट में लिखा, ‘पिछले 4 महीनों में क़रीब 2 करोड़ लोगों ने नौकरियां गंवाईं 2 करोड़ परिवारों का भविष्य अंधकार में है.फेसबुक पर झूठी खबरें और नफ़रत फैलाने से बेरोज़गारी और अर्थव्यवस्था के सर्वनाश का सत्य देश से नहीं छुप सकता। ‘

कांग्रेस के पूर्व अध्‍यक्ष ने अपने ट्वीट के साथ एक खबर भी अटैच की थी जिसमें अप्रैल 2020 से अब तक 1.89 करोड़ नौकरियां जाने का दावा किया गया है। राहुल इससे पहले भारत-चीन सीमा विवाद, कोरोना महामारी से निपटने में सरकार की कथित नाकामी और पीएम केयर्स फंड जैसे मुद्दों पर सरकार पर हमला बोल चुके हैं। 16 अगस्‍त को ही सीमा विवाद मामले में राहुल ने ट्वीट किया था, ‘प्रधानमंत्री के सिवा हर कोई भारतीय सेना की क्षमता और वीरता में विश्वास करता है। जिनकी कायरता ने चीन को हमारी जमीन लेने की अनुमति दी। जिनके झूठ से यह सुनिश्चित होगा कि वे इसे बनाए रखेंगे। ‘

14 अगस्‍त को एक अन्‍य ट्वीट में भी उन्‍होंने चीन विवाद पर लेकर सरकार को निशाने पर लिया था। उन्होंने लिखा था, ‘केंद्र सरकार लद्दाख में चीनी इरादों का सामना करने से डर रही है। ग्राउंड से मिले सबूत यह इशारा कर रहे हैं कि चीन खुद को तैयार कर रहा है, पोजीशन बना रहा है। प्रधानमंत्री में निजी साहस की कमी और मीडिया में इस मुद्दे पर चुप्पी के चलते भारत को बड़ी कीमत चुकानी पड़ेगी।

‘यह भी पढ़ें
Spread the love